17 February 2019



प्रमुख समाचार
पांच छोटे अफसरों की संपत्ति राजसात होगी महाभ्रष्ट आईएएस अफसरों की नहीं
05-04-2012

भ्रष्टाचार के मामलों का त्वरित गति से निबटारा करने का दिखावा शुरू हो गया है। पहले चरण में सरकार ने अपनी आदत के मुताबिक सिर्फ उन छोटे अधिकारियों को निशाना बनाया है जिनका कोई खैरख्वाह नहीं था। सरकार  पांच छोटे अफसरों की संपत्ति राजसात करेगी। इन पांच अफसरों में एमपीईबी के अधीक्षण यंत्री बृजेश राय(98 लाख रुपए की संपत्ति),सहायक सत्कार अधिकारी रहे त्योफिल तिग्गा(68 लाख की संपत्ति), संस्था प्रबंधक उकवा बालाघाट चित्रसेन बिसेन(1.14 करोड़ की संपत्ति) परिवहन विभाग इंदौर का बाबू रमन धूलधोए(1.17 करोड़ रुपए की संपत्ति) अधीक्षण यंत्री बाणसागर रहे एमपी चतुर्वेदी(1.45 करोड़ रुपए की संपत्ति) है।लाख टके का सवाल यह है कि 250 करोड़ रुपए की संपत्ति के मालिक अरविंद टीनू जोशी जैसे आईएएस अफसरों की संपत्ति क्या कम है। क्या एमके सिंह जैसे महाभ्रष्ट आईएएस अफसरों के दस करोड़ रुपए के घोटाले कम हैं। क्या राजेश राजौरा, अंजू सिंह बघेल, एलके द्विवेदी, संजय शुक्ला, भ्रष्ट नहीं हैं।