19 February 2019



खेलकूद
मुंबई, चार्जर्स में भिडत आज
09-04-2012

 विशाखापत्तनम। अपने पिछले मुकाबलों में पराजय झेलनी वाली मुंबई इंडियंस और डेक्कन चार्जर्स की टीम सोमवार को यहां एक दूसरे के खिलाफ अपने अभियान को पटरी पर लाने की कोशिश करेगी। मुंबई इंडियंस ने चार अप्रैल को टूर्नामेंट के शुरुआती मैच में चेन्नई को शिकस्त दी थी, लेकिन अगले मैच में उसे पुणे वॉरियर्स के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था। दूसरे मैच में टीम के सबसे बड़े स्टार सचिन तेंदुलकर चोट के कारण नहीं खेले थे। सचिन की अनुपस्थिति के बावजूद मुंबई इंडियंस की टीम कागज पर मजबूत दिखती है, लेकिन मेहमान टीम को यह बात ध्यान रखनी होगी कि चार्जर्स की टीम अपने घरेलू मैदान पर खेल रही है। चार्जर्स को भी अपने शुरुआती अभियान में गत चैंपियन चेन्नई सुपरकिंग्स से हार का सामना करना पड़ा था और वह अब जीत के साथ टूर्नामेंट में अपना खाता खोलने को बेताब होगी। तेंदुलकर नहीं, लेकिन गेंदबाजी मजबूत : तेंदुलकर की अनुपस्थिति में पुणे के खिलाफ मुंबई की पारी में कोई चमक नहीं दिखी, जिसमें केवल दिनेश कार्तिक ने 32 गेंद में इतने ही रन बनाए, जबकि जेम्स फ्रैंकलिन ने भी ऐसा ही प्रदर्शन किया। लेकिन उनके गेंदबाजों ने दोनों मैचों में शानदार प्रदर्शन किया, जिसमें लसिथ मलिंगा, मुनाफ पटेल, प्रज्ञान ओझा और कप्तान हरभजन सिंह शामिल हैं। मुंबई की टीम इस मैच में अपने बल्लेबाजों से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद करेगी। कम सितारों वाली चार्जर्स : इस साल सबसे कम सितारों वाली चार्जर्स के कप्तान कुमार संगकारा अभी तक टीम से जुड़े नहीं हैं। उसके लिए बल्लेबाजी में कोई भी बड़ा नाम नहीं है, लेकिन शिखर धवन, डेनियल क्रिश्चियन, कैमरून व्हाइट और डेनियल हैरिस से हमेशा मैच विजयी प्रदर्शन की उम्मीद की जा सकती है। गेंदबाजी विभाग में दक्षिण अफ्रीका के डेल स्टेन, रुस्टी थेरॉन और मनप्रीत गोनी जैसे अनुभवी तेज गेंदबाज हैं, जो अपनी गेंदबाजी के दम पर कभी भी मैच का रुख अपनी ओर मोड़ने की कुव्वत रखते हैं। अमित मिश्रा के रूप में चार्जर्स के पास एक विश्व स्तरीय लेग स्पिनर भी है। चार्जर्स को भले ही शुरुआती मैच में हार का सामना करना पड़ा हो, लेकिन क्रिकेट के इस प्रारूप में किसी भी टीम को कमजोर समझना बड़ी गलती होगी।