18 February 2019



खेलकूद
किंग्स इलेवन पुणे वारियर्स के खिलाफ उतरेगा
12-04-2012

मोहाली। लगातार दो हार से निराश किंग्स इलेवन पंजाब इंडियन प्रीमियर लीग के पाचवें सत्र के लीग मुकाबले में पुणे वारियर्स के खिलाफ गुरुवार को यहा अपने घरेलू मैदान पर जीत से शुरुआत करने की कोशिश करेगी। किंग्स इलेवन को अपने पिछले मैच में पुणे वारियर्स के खिलाफ उसी के मैदान पर हार का सामना करना पड़ा था। अगर आइपीएल के पहले सत्र को छोड़ दें, तो इस साल और पिछले सत्रों में भी पंजाब की टीम शुरुआती लय हासिल करने में नाकाम रही है। जिससे उसे इस टूर्नामेंट के अगले दौर में जाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी है। पहले सत्र में पंजाब की टीम युवराज सिंह के नेतृत्व में सेमीफाइनल तक पहुंची थी। बॉलीवुड अभिनेत्री प्रिटी जिंटा की सहमालिकाना हक वाली इस फ्रेंचाइजी को इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड की कमी खलेगी, जो चोटिल होने के कारण मैदान से बाहर हैं। मैच रात आठ बजे से खेला जाएगा, जिसका सीधा प्रसारण सेट मैक्स पर देखा जा सकता है। बाजुओं में कितना जोर : किंग्स इलेवन : पहले मुकाबले में किंग्स इलेवन राजस्थान के 192 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए 160 रन ही बना सकी थी। राजस्थान के खिलाफ कप्तान एडम गिलक्रिस्ट, पिछले सत्र के हीरो पॉल वाल्थाटी, ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज शॉन मार्श, अभिषेक नायर और डेविड हसी जैसे बल्लेबाज असफल रहे थे। पुणे के खिलाफ किंग्स इलेवन के बल्लेबाज 144 रन तक ही स्कोर खींच पाए। कोई भी बल्लेबाज बड़ा स्कोर बनाने में नाकाम रहा। मध्यम तेज गेंदबाज प्रवीण कुमार अब तक प्रभाव छोड़ने में नाकाम रहे हैं। लेग स्पिनर पीयूष चावला और विपुल शर्मा भी असरहीन रहे हैं। केवल इस साल टीम से जुड़े हरमीत सिंह चतुराई से गेंदबाजी कर रहे हैं और वारियर्स को इस गेंदबाज को ध्यान से खेलने की जरूरत है। सिंह ने पिछले मैच में तीन विकेट लिए थे। अब तक : दो मैच खेले, दोनों हारे पुणे वारियर्स : सौरव गागुली की कप्तानी वाली पुणे वारियर्स की टीम मुंबई इंडियंस के खिलाफ 129 रन के मामूली से लक्ष्य का बचाव करके उत्साह से लबरेज है। हालाकि उस मुकाबले में 'मैन ऑफ द मैच' स्टीव स्मिथ और रॉबिन उथप्पा के अलावा कोई अन्य बल्लेबाज लसिथ मलिंगा और प्रज्ञान ओझा के सामने सहज नहीं दिखा। टीम को अच्छी स्थिति में पहुंचाने की जिम्मेदारी शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों और कप्तान गागुली पर होंगी। गेंदबाजी विभाग में तेज गेंदबाज अशोक डिंडा अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाज वेन पर्नेल और आशीष नेहरा भी किंग्स इलेवन के बल्लेबाजों के लिए मुसीबत पैदा कर सकते हैं, क्योंकि मोहाली का विकेट तेज गेंदबाजों के लिए मददगार रहता है। अब तक : दो मैच खेले, दोनों जीते