16 February 2019



खेलकूद
आस्ट्रेलिया की पहले टेस्ट में रोमांचक जीत
13-04-2012

ब्रिजटाउन। ऑस्ट्रेलिया ने रोमांचक पहले टेस्ट में वेस्टइंडीज को तीन विकेट से हरा दिया। वेस्टइंडीज ने आखिरी दिन पांच विकेट पर 71 रन से आगे खेलना शुरू किया और मात्र 77 रन जोड़कर बाकी के बल्लेबाज भी पवेलियन लौट गए। इस तरह से ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 192 रन का लक्ष्य मिला। जिसे उसने शेन वॉटसन के 57 गेंद पर तेजतर्रार 52 रन की मदद से सात विकेट के नुकसान पर पा लिया। इस जीत के साथ ऑस्ट्रेलिया ने तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त बना ली। पहली पारी में नाबाद 68 रन बनाने वाले और मैच में कुल पांच विकेट झटकने वाले तेज गेंदबाज रेयान हैरिस को 'मैन ऑफ द मैच' चुना गया। ऑस्ट्रेलियाई पारी के दौरान कैरेबियाई टीम ने आक्रामक फील्ड लगाई, जिससे एड कोवान [34] और डेविड वार्नर [22] के लिए रन बनाना मुश्किल हो गया। इसी हताशा में वार्नर ने डेरेन सैमी की गेंद पर थर्डमैन में खराब शॉट खेला और बॉ ने कैच लपक लिया। चाय के बाद वाटसन और कोवान ने तेजी से रन बनाने शुरू किए। अगले 14 ओवर में 65 रन बने। इसी बीच देवनारायण की गेंद पर स्वीप शॉट खेलने के प्रयास में वाटसन ने सीमारेखा पर कैच थमा दिया। देवनारायण ने दूसरा विकेट कोवान के रूप में लिया, जिनका कैच मिडविकेट पर लपका गया। वहीं रिकी पोंटिंग को उन्होंने बोल्ड कर दिया। दो गेंद बाद अपने अगले ओवर में देवनारायण को चौथा विकेट मिला, जब माइकल क्लार्क ने उन्हें रिटर्न कैच थमाया। खराब होती रोशनी के बीच माइकल हसी [26 गेंद में 32 रन] और मैथ्यू वेड [28 गेंद पर 18 रन] ने तेजी से रन बनाए। दोनों को केमार रोच ने आउट किया, जिसके बाद बेन हिल्फेनहास [नाबाद 02] ने ऑस्ट्रेलिया के लिए विजयी रन बनाया।