17 February 2019



प्रमुख समाचार
ग्वालियर की घटिया पुलिस को शर्म तब भी नहीं आई
23-04-2012

एक ओऱ जहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश में बेहतर कानून व्यवस्था देने के दावे कर रहे हैं लेकिन दूसरी ओर प्रदेश के महानगरों में कायर पुलिस अधिकारियों के कारण बदमाशों के हौसंले बुलंद हो रहे हैं। ग्वालियर के गोविंदपुरी में दिन दहाड़े कोचिंग से लौट रही एक छात्रा को तीन बदमाशों द्वारा जबरन बोलेरो गाड़ी में उठा ले जाने और उसके साथ मुहं काला करने के मामले में एसपी मकरंद देउस्कर एक निरीह कप्तान की तरह नजर आए। मकरंद देऊस्कर जैसे लापरवाह अधिकारी घटना के चार घंटे बाद भी यह बताने की स्थिति में नहीं थे कि पकड़े गए बदमाशों से इतनी हमदर्दी क्यों बरती जा रही है। पुलिस में जब आईपीएस स्तर के अधिकारी ही इतने भ्रष्ट औऱ निकम्मे हो जाएं कि उन्हें कानून से ज्यादा अपनी कुर्सी बचाने की चिंता हो तो प्रदेश की कानून व्यवस्था तो भगवान भरोसे होना ही है।