19 February 2019



खेलकूद
टीम के बाद खिलाडि़यों की भी गिरी रैंकिंग
30-01-2012

दुबई। आस्ट्रेलिया में अपना सूपड़ा साफ कराने के बाद न सिर्फ भारत की टेस्ट रैंकिंग गिरी बल्कि खिलाडि़यों की भी रैंकिंग में गिरावट आई है। मास्टर बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर रविवार को जारी आईसीसी की टेस्ट रैंकिंग में बल्लेबाजों की शीर्ष 10 सूची से खिसककर 13वें स्थान पर जबकि तेज गेंदबाज जहीर खान गेंदबाजी सूची में एक पायदान लुढ़ककर 10वें नंबर पर पहुंच गए।

शनिवार को समाप्त हुई सीरीज में भारत को 0-4 से हार का मुंह देखना पड़ा जिसका असर भारतीय खिलाडि़यों की व्यक्तिगत आईसीसी रैंकिंग पर पड़ा। तेंदुलकर 13वें जबकि अन्य सीनियर बल्लेबाज राहुल द्रविड़ तीन पायदान के नुकसान से 18वें नंबर पर खिसक गए। वीवीएस लक्ष्मण दो पायदान के नुकसान से 23वें और वीरेंद्र सहवाग एक पायदान खिसककर उनसे पीछे हैं। सहवाग के साथी सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर भी दो पायदान के नुकसान से 34वें स्थान पर पहुंच गए। हालांकि विराट कोहली सीरीज के दौरान शतक जड़ने वाले एकमात्र भारतीय हैं जो 17 पायदान के फायदे से 50वें नंबर पर पहुंचे हैं। भारतीय टीम दूसरे स्थान से लुढ़ककर तीसरे पायदान पर खिसक गई है।

गेंदबाजों की सूची में जहीर शीर्ष 10 में ही नहीं बल्कि शीर्ष 20 में भी अकेले भारतीय खिलाड़ी हैं। वहीं आस्ट्रेलियाई खिलाडि़यों के लिए अच्छी खबर है जिनके खिलाडि़यों को रैंकिंग में काफी फायदा हुआ है। तेज गेंदबाज पीटर सिडल, रेयान हैरिस और आफ स्पिनर नाथन ल्योन ने गेंदबाजी सूची में उछाल लगाई है। एडिलेड टेस्ट में 96 रन देकर छह विकेट चटकाकर मैन आफ द मैच चुने गए सिडल को दो पायदान का फायदा हुआ है और वह चौथे स्थान से करियर की सर्वश्रेष्ठ रेटिंग हासिल करने में सफल रहे। हैरिस के 112 रन पर चार विकेट ने उन्हें चार पायदान के लाभ से 22वें स्थान पर पहुंचा दिया। वहीं ल्योन के 111 रन पर चार विकेट से उन्हें नौ पायदान का फायदा हुआ जिससे वह 43वें नंबर पर पहुंच गए। आस्ट्रेलियाई टीम में कप्तान माइकल क्लार्क और रिकी पोंटिंग ने शानदार प्रदर्शन किया था जिससे टेस्ट बल्लेबाजों की रैंकिंग में उन्होंने ऊंची छलांग लगाई है। क्लार्क भारत के खिलाफ मैन आफ द सीरीज रहे, उन्हें सात पायदान का फायदा हुआ जिससे वह तीसरे स्थान पर काबिज हो गए। आस्ट्रेलिया की तरफ से अगली ऊंची रैंकिंग के बल्लेबाज पोंटिंग हैं जो 14वें स्थान पर पहुंच गए हैं। उन्होंने एडिलेड में 221 और नाबाद 60 रन बनाए थे जिससे उन्हें आठ पायदान का फायदा हुआ।

इंग्लैंड को एक अप्रैल की कट आफ तारीख तक अपना नंबर एक स्थान सुनिश्चित करने के लिए दुबई टेस्ट जीतना ही होगा जबकि पाकिस्तान की सीरीज में 3-0 से जीत उसे भारत और आस्ट्रेलिया के तीन अंक करीब ला देगी। आफ स्पिनर सईद अजमल को एक पायदान का फायदा हुआ है और उनके स्पिनर जोड़ीदार अब्दुर रहमान ने भी करियर में पहली बार शीर्ष 10 में प्रवेश किया। अजमल ने दुबई टेस्ट में 97 रन देकर 10 और अबुधाबी टेस्ट में 130 रन देकर सात विकेट चटकाए थे जो उन्हें इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन से एक स्थान आगे दूसरे नंबर पर पहुंचाने के लिए काफी था। 34 वर्षीय अजमल ने इस उपलब्धि से 50 रेटिंग अंक हासिल किए जिसे वह अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग हासिल करने में कामयाब रहे। वह एंडरसन से 25 रेटिंग अंक आगे हैं और अब भी दक्षिण अफ्रीका के डेल स्टेन से 84 रेटिंग अंक से पिछड़ रहे हैं जो शीर्ष पर काबिज हैं। पाकिस्तानी कप्तान मिसबाह उल हक ने पहली बार अपने करियर में शीर्ष 10 में वापसी की। वह 84 और 12 रन के योगदान से छह अंक के फायदे से आठवें स्थान पर पहुंच गए।