19 February 2019



खेलकूद
यह आईपीएल में 2000 रन पूरे करने वाले पहले बल्लेबाज बने
01-05-2012

खेल डेस्क. चेन्नई सुपरकिंग्स के बल्लेबाज सुरेश रैना आईपीएल में 2000 रन पूरे करने वाले पहले बल्लेबाज बन गए हैं। कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ सोमवार रात हुए मुकाबले में उन्होंने 44 रन की पारी के दौरान इस उपलब्धि को हासिल किया। इस कारनामे के बावजूद रैना फिसड्डी साबित हो रहे हैं।रैना आईपीएल में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। उन्होंने अबतक खेले 72 मैचों में 34.06 की औसत से 2010 रन बनाए हैं। रैना के नाम आईपीएल के हर सत्र में 400 से अधिक रन बनाने का रिकॉर्ड भी दर्ज है। आईपीएल में इतनी निरंतरता से कोई अन्य बल्लेबाज रन नहीं बना सका है। लेकिन इस साल रैना का यह क्रम टूटता दिख रहा है।रैना चेन्नई सुपरकिंग्स के स्टार बल्लेबाज रहे हैं। हालांकि वो एक बार भी ऑरेंज कैप विजेता नहीं बन सके। लेकिन हर सत्र में 400 से अधिक रन बनाकर उन्होंने एक खास रिकॉर्ड अपने नाम कर रखा है 2008 पहले सत्र में रैना ने 38.27 की औसत से 421 रन बनाए थे। इसमें तीन अर्धशतक शामिल रहे। रैना का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नाबाद 55 रन का रहा।2009 दूसरे सत्र में भी रैना का बल्ला जमकर बोला। रैना ने इस सीजन में खेले 14 मैचों में 140.90 की स्ट्राइक रेट से 434 रन बनाए। इस साल रैना ने कुल दो हाफ सेंचुरी लगाईं, लेकिन उन्होंने अपना सर्वश्रेष्ठ स्कोर में सुधार किया। रैना का सबसे बड़ा स्कोर 98 रन का रहा।2010 आईपीएल-3 में रैना के प्रदर्शन में और निखार आया। रैना के बल्ले के दम पर चेन्नई ने 2010 का आईपीएल खिताब अपने नाम किया। इस साल रैना ने 16 मैचों में 47.27 की बेहतर औसत से 520 रन बनाए। इसमें चार अर्धशतकीय पारियां शामिल रहीं। सैकड़ा जमाने के मामले में रैना इस साल भी दुर्भाग्यशाली रहे। उनका सर्वोच्च स्कोर नाबाद 83 रन का रहा।2011 आईपीएल के चौथे सत्र में एकबार फिर चेन्नई ने खिताब पर कब्जा जमाया। हालांकि इस साल रैना के प्रदर्शन में थोड़ी गिरावट देखने को मिली। रैना ने आईपीएल-4 में खेले 16 मैचों में 31.28 की औसत से 438 रन बनाए। इस साल भी रैना ने चार अर्धशतक लगाए।2012 आईपीएल-5 में रैना का बल्ला शांत दिख रहा है। अबतक खेले 10 मैचों में रैना कुल 197 रन बना सके हैं। इसमें एकभी अर्धशतकीय पारी नहीं है। पिछले चार सत्रों से लगातार 400 का आंकड़ा पार कर रहे रैना इस साल यह क्रम तोड़ते दिख रहे हैं। रैना ने 44 रन की पारी खेलकर 2000 रन तो पूरे कर लिए, लेकिन वो 400 रन के पंच से चूकते दिख रहे हैं।रैना के प्रशंसकों को उम्मीद होगी कि शेष मैचों में रैना धुआंधार बल्लेबाजी का प्रदर्शन कर अपने इस रिकॉर्ड को बरकरार रख पाएंगे। चेन्नई सुपरकिंग्स को अभी टूर्नामेंट में छह मैच और खेलने हैं। इन छह मैचों में रैना अपना रिकॉर्ड सुधार सकते हैं।