18 February 2019



खेलकूद
युवी ने दिखाई जिंदादिली
02-05-2012

चंडीगढ़। क्रिकेट के मैदान और बाहर अपनी जिंदादिली के लिए विख्यात क्रिकेटर युवराज सिंह अब अपनी बीमारी को याद नहीं करना चाहते हैं। कैंसर का इलाज कराने के बाद पहली बार मंगलवार को अपने गृह नगर चंडीगढ़ पहुंचे युवराज से जब उनकी बीमारी के बारे में किसी ने सवाल किया तो उनके मुस्कुराते चेहरे पर गंभीरता के भाव आ गए। युवी ने कहा कि वह बेहद मुश्किल दौर था, कृपया मुझे बीमारी और पिछली बातों के बारे में बार-बार याद मत दिलाएं। जब मुझसे कोई ये सवाल पूछता है तो मुझे लगता है कि मैं अब भी बीमार ही हूं। युवराज ने कहा कि वे कैंसर से पीड़ित लोगों को साइकिलिस्ट लांस आर्मस्ट्रांग की जीवनी सुनाकर प्रेरित करेंगे। उनके अनुसार यह किताब सभी को पढ़नी चाहिए, क्योंकि इसमें जीवन जीने की कला भी छिपी है। यह पूछने पर कि वह मैदान पर कब लौटेंगे तो उन्होंने कहा कि अभी अभ्यास में समय लगेगा। सचिन के राज्यसभा सदस्य मनोनीत किए जाने के सवाल पर अपने अंदाज में युवी ने कहा कि अब तो उनको हर रोज गुड मॉर्निग सर बोलना पड़ेगा।