17 February 2019



मनोरंजन
राष्ट्रीय पुरस्कार मिलने से खुश विद्या बालन
04-05-2012

दिल्ली। डर्टी पिक्चर के लिए मिले राष्ट्रीय पुरस्कार को सपना सच होने जैसा बताने वाली अभिनेत्री विद्या बालन ने आज कहा कि वह खुशकिस्मत हैं कि भारतीय सिनेमा के मौजूदा दौर में काम करने का मौका मिला। बी ग्रेड अभिनेत्री सिल्क स्मिता के चरित्र की अविश्वसनीयता, असुरक्षा और गरिमा को प्रभावपूर्ण और कल्पनाशील अभिनय के जरिए पर्दे पर पेश करने वाली विद्या ने कहा, मैं हमेशा राष्ट्रीय पुरस्कार जीतने का सपना देखती थी जो आज पूरा हुआ। डर्टी पिक्चर, कहानी जैसी फिल्मों में जीवंत अभिनय के लिए वाहवाही बटोरने वाली विद्या ने कहा , मैं खुशकिस्मत हूं कि भारतीय सिनेमा के इस दौर में पैदा हुई जब अभिनेत्रियों के करने के लिए बहुत कुछ है। उन्होंने कहा , असली भारतीय महिला के चरित्र में कई रंग होते हैं। हर महिला ना तो पूरी तरह सती सावित्री होती है और ना खलनायिका। उसके कई रंग होते हैं जिन्हें पर्दे पर उकेरने का मुझे मौका मिला है और अभी बहुत कुछ करना है। मराठी फिल्म देउल के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार जीतने वाले गिरीश कुलकर्णी ने कहा , मराठी और क्षेत्रीय सिनेमा के लिए यह बड़ा दिन है। यह पुरस्कार कई लोगों की मेहनत का नतीजा है और उम्मीद है कि इससे क्षेत्रीय सिनेमा को नया आयाम मिलेगा।