18 February 2019



प्रमुख समाचार
पी.डब्ल्यू.डी. के 27 इंजीनियर्स को कारण बताओ नोटिस
08-05-2012

राज्य शासन ने लोक निर्माण विभाग के 27 इंजीनियर्स को वर्ष 2004-05 में आवंटन से अधिक व्यय करने पर कारण बताओ नोटिस जारी किये हैं। यह नोटिस लोक लेखा समिति के परीक्षण बाद व्यय अधिक पाये जाने पर जारी किये गये हैं। जारी नोटिसों का राज्य शासन निर्धारित समय-सीमा में जवाब मिलने पर एक-पक्षीय कार्यवाही की जायेगी।

इसमें जी.आर. गुजरे तत्कालीन कार्यपालन यंत्री, शिवपुरी (वर्तमान में अधीक्षण यंत्री, सिवनी), आर.आर. शाक्य तत्कालीन कार्यपालन यंत्री, ग्वालियर (वर्तमान में कार्यपालन यंत्री, जबलपुर), जे.एस. चौहान तत्कालीन कार्यपालन यंत्री, रीवा (वर्तमान में कार्यपालन यंत्री, भोपाल), पी.डी. वर्मा तत्कालीन कार्यपालन यंत्री, डिण्डोरी, डी.के. शारीवान तत्कालीन कार्यपालन यंत्री, उमरिया (वर्तमान में जबलपुर), आर.एस. भील तत्कालीन कार्यपालन यंत्री, झाबुआ (वर्तमान में भोपाल), एम.एस. रावत तत्कालीन कार्यपालन यंत्री, धार, गोपाल सिंह तत्कालीन कार्यपालन यंत्री, कटनी (वर्तमान में महाप्रबंधक मध्यप्रदेश रोड डेव्हलपमेंट, सागर), एन सिद्दीकी तत्कालीन कार्यपालन यंत्री, जबलपुर (वर्तमान में भोपाल), गोपाल सिंह तत्कालीन कार्यपालन यंत्री, नरसिंहपुर (वर्तमान में आर.डी.सी., भोपाल), एच.. साबिर तत्कालीन कार्यपालन यंत्री, रतलाम