16 February 2019



खेलकूद
भारतीय टीम फाइनल में इंग्लैंड से हारी
07-05-2012

नई दिल्ली। राहुल बनर्जी, जयंत तालुकदार और तरूणदीप राय की भारतीय तिकड़ी को तुर्की के अंताल्या में सम्पन्न विश्व कप तीरंदाजी के दूसरे चरण की पुरूष रिकर्व टीम स्पर्द्धा के फाइनल में इंग्लैंड से हार झेलकर रजत पदक से संतोष करना पड़ा। लंदन ओलम्पिक के लिए क्वालीफाई करने को जूझ रही भारतीय पुरूष टीम को फाइनल में इंग्लैंड ने 222-211 से हराकर स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया। कोरिया ने फ्रांस को 225-222 से हराकर स्पर्द्धा का कांस्य पदक अपने नाम किया। टूर्नामेंट में भारत को एकमात्र स्वर्ण रिकर्व व्यक्तिगत स्पर्द्धा में दीपिका कुमारी ने दिलाया। सेमीफाइनल में शीर्ष वरीयता प्राप्त कोरिया को हराकर उलटफेर करने वाली भारतीय टीम का फाइनल में प्रदर्शन कुछ खास नहीं हरा। टीम पहले राउंड में 53 का ही स्कोर कर सकी और इंग्लैंड से तीन शॉट से पिछड़ गई। इसके बाद हालांकि दूसरा राउंड 53-53 से बराबर रहा, लेकिन इंग्लिश तीरंदाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए तीसरे दौर में तीन परफेक्ट टेन लगाकर बाजी अपने नाम कर ली। तीसरे राउंड के बाद स्कोर 166-158 हो गया। चौथे व निर्णायक राउंड में भारतीय टीम के पास वापसी का मौका था, लेकिन वह 53 का ही स्कोर कर सकी। जबकि इंग्लैंड का स्कोर 56 रहा और इसके साथ ही उसने खिताब अपने नाम कर लिया। ओलम्पिक के लिए क्वालीफाई कर चुकी भारतीय महिला रिकर्व टीम क्वार्टरफाइनल में चीनी ताइपे से हार गई थी।