24 February 2019



अंतरराष्ट्रीय
अब अमेरिका नही करेगा पाक की मदद
10-05-2012

वाशिंगटन। कांग्रेस की एक कमेटी ने 2013 के अपने बजट प्रस्तावों में पाकिस्तान को आर्थिक व सुरक्षा सहायता पर रोक लगा दी है। यह रोक तब तक लगी रहेगी जब तक पाकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में अमरीका का साथ नहीं देता है। हालांकि इस कदम से दोनों देशों के रिश्तों में और तनाव आ सकता है।इस समिति ने बुधवार को पाकिस्तान को दी जा रही 80 करोड़ डालर की सहायता पर रोक लगा दी। यह सहायता पाकिस्तानी सेना को युद्धकौशल से लैस होने व प्रशिक्षण के लिए दी जानी थी। इस कदम से यह स्पष्ट है कि अमरीकी सांसदों को आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में पाकिस्तान की सहभागिता पर शंका है। पिछले साल एबटाबाद में अमरीकी कार्रवाई में शीर्ष आतंकी ओसामा बिन लादेन को ढेर किए जाने के बाद से ही अमरीका और पाकिस्तान के रिश्तों में खटास आई हुई है।इस बिल के अनुसार यह राशि तब तक जारी नहीं की जाएगी जब तक कि अमरीकी विदेश मंत्री यह पुष्टि नहीं कर देतीं कि पाकिस्तान आतंक के खिलाफ लड़ाई में हक्कानी नेटवर्क, तालिबान, अलकायदा, लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए- मुहम्मद जैसे संगठनों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई में अमरीका का सहयोग कर रहा है।अन्य शर्तो में कहा गया है कि पाकिस्तान को यह मदद तब तक नहीं दी जाएगी जब तक वह इंप्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस के व्यापक इस्तेमाल के खिलाफ कोई ठोस रणनीति नहीं बनाता। अफगानिस्तान में अमरीकी सेना को निशाना बनाने में आइईडी का सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है। अमेरिका का मानना है कि यह सीमा पार पाकिस्तान से आता है